साइबर क्राइम को देखते हुए आरबीआई ने ग्राहकों को किया आगाह, जानिए क्या करें, क्या न करें

65

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने ग्राहकों को आगाह किया है। बैंक ने ट्वीट करते हुए कहा है कि ग्राहक इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करते समय किसी को भी अपने फोन कॉल, ईमेल, एसएमएस और वेबलिंक पर व्यक्तिगत जानकारी साझा ना करें। बैंकों में आपका पैसा कितना सुरक्षित है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 2019-20 में तत्कालीन 18 सरकारी बैंकों में कुल 1,48,427.65 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 12,461 मामले सामने आए हैं।

बैंक ने कहा है कि अगर संदेह हो तो अपने बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर ग्राहक सहायता नंबर जांच लें। आरबीआई ने ट्वीट करते हुए कहा है साइबर धोखाधड़ी चुटकियों में हो जाती है इसीलिए सतर्क रहें। बैंक ने कहा है कि अपनी निजी जानकारी, कार्ड से जुड़ी जानकारी, बैंक खाता, आधार, पैन से किसी ना बताएं। ट्वीट के जरिए आरबीआई ने कहा है कि अगर आपके पास किसी अंजान नंबर से फोन आता है या कोई आपसे बैंक खाता नंबर पूछता है या फिर आपसे केवाईसी की जानकारी चाहता है तो आप तुरंत फोन काट दें।

उल्लेखनीय है कि 2019-20 में तत्कालीन 18 सरकारी बैंकों में कुल 1,48,427.65 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 12,461 मामले में से सबसे ज्यादा धोखाधड़ी SBI में हुई है। 
 

.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.

.

...
RBI warns customers about fraud
.
.

.