इंग्लिश स्मार्ट जॉन बखरी द्वारा किया गया , मेधावी छात्र सम्मान समारोह ।

1227

बखरी(बेगूसराय) :-  मेधावी छात्र सम्मान समारोह :   

मेहनत से जो अपना मुकाम बनाते हैं ,

वही दुनिया में अलग पहचान बनाते हैं।।

* मेधावीयों की प्रतिभा सहारा  ,* सम्मानित किया गया इंग्लिश स्मार्ट जॉन के छात्र-छात्रा मेहनत से अपने लक्ष्य को पाने का संकल्प दोहराया है।   मेहनत से मेधावी अपनी अलग पहचान बनाते हैं जिसके लिए दुनिया में कुछ भी नामुमकिन नहीं है।  उपस्थित शिक्षक अशोक कुमार प्रियदर्शी , अजीत कुमार , अनंत कुमार , शंकर कुमार , दीपक कुमार एवं  रामपुकार कुमार अपनी बातों को रखा एवं छात्र-छात्राओं को आगे शिक्षण के लिए प्रेरित किया  । उन्होंने कहा वर्तमान समय तकनीकि शिक्षा ग्रहण  करने  की आवश्यकता  है।

मेधावी छात्र सम्मान समारोह का तस्वीर

छात्र-छात्राओं को तकनीकि  डिग्री लेने के लिए प्रेरित किया है।  सरकार ने भी छात्राओं को पढ़ाई करने के लिए विभिन्न प्रकार की सुविधाएं दे रही है , जिसमें गरीब से गरीब छात्र-छात्राएं भी एजुकेशन लोन ( शिक्षा ऋण ) के माध्यम से आगे पढ़ाई करते हैं ।

इंग्लिशिया स्मार्ट जॉन बखरी के  संचालक प्रदीप कुमार चौधरी ने कहा है कि छात्र-छात्राओं को सफलता में सबसे प्रथम अहम भूमिका उसके माता-पिता की होती है और वही प्रथम गुरु होते हैं क्योंकि उन्होंने शिक्षा का महत्व समझा और बेहतर कोचिंग संस्थान को चुना ।

पीयूष कुमार 456अंक
10+2(इंटरमीडिएट)

 

शिक्षा  हीं शिक्षा की कद्र करती है। 

– प्रदीप कुमार चौधरी ,संचालक इंग्लिश स्मार्ट जॉन बखरी (बेगूसराय)

छात्र-छात्राओं का बेहतर रिजल्ट बनाने में शिक्षक छात्र एवं माता-पिता तीनों की अहम भूमिका होती है।  यदि तीनों अपनी जिम्मेवारी समझे तो कोई भी बच्चे असफल नहीं हो सकते हैं ।

तनु कुमारी 418अंक
10+2(इंटरमिडिएट)

संस्था का नाम रौशन करने में इन सभी छात्र-छात्राओं का महत्वपूर्ण योगदान रहा है।  जिन्होंने अपना तन-मन-धन  से अपने माता-पिता एवं गुरुजनों का नाम रौशन  किया । इन छात्र-छात्राओं ने बखरी अनुमंडल में अपना परचम लहराया , बिहार विद्यालय परीक्षा  समिति पटना द्वारा जारी  इंटरमिडिएट परीक्षा  परिणाम में इंग्लिश स्मार्ट जॉन बखरी के  पीयूष कुमार (456) , आरती कुमारी (456) , तरुण कुमार (430) , राजनंदिनी ( 429) , हिमांशु कुमार (422) , तनु कुमारी  (418) , अक्षत कुमार (412) , मोनी कुमारी (408) एवं श्रुति कुमारी  (404) ने सुदूर क्षेत्रों में होने के बाद भी 400 से अधिक अंक  लाकर संस्थान का नाम रौशन किया ।

संस्था के संचालक ने कहा कि कुल मिलाकर 92. 4 % छात्र-छात्राएं प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण हुए ।