सहायक लोको पायलट शराब पीकर किया हंगामा : नशे में धुत सहायक लोको पायलट गिरफ्तार।

213

गढ़पुरा(बेगूसराय): जब एक व्यक्ति शराब पीकर एक साधारण सा मोटरसाइकिल चलाते हैं तो सभी ‌लोंगों को लगता है कि यह कहीं ना कहीं किसी न किसी को ठोकेगा या खुद किसी से टकरा जाएगा लेकिन आजकल मोटरसाइकिल की तो बात छोड़िए भारत सरकार के सबसे विश्वसनीय व सबसे बड़ी संस्था भारतीय रेल के सहायक लोको पायलट भी आजकल नशे में धुत होकर रेलवे स्टेशन के आसपास के दुकानों में हंगामा करते नजर आते हैं । जी हां –

यह घटना विगत सोमवार के दिन समस्तीपुर से सहरसा की ओर जाने वाली सवारी गाड़ी सं०- 05278 के सहायक लोको पायलट शराब पीकर हसनपुर बाजार के चाय दुकानों में हंगामा करते नजर आते हैं ।हंगामा करने की वजह से ट्रेन एक घंटा सात मिनट तक रुकी रही। इसके बाद जीआरपी पुलिस हंगामा कर रहे सहायक लोको पायलट को गिरफ्तार कर थाना ले गया।

 

हंगामा कर रहे सहायक लोको पायलट की पहचान जितवारपुर निवासी शिव सागर राय के 35 वर्षीय पुत्र कर्मवीर प्रसाद यादव के रूप में हुई है। जानकारी के मुताबिक समस्तीपुर से चलकर सहरसा की ओर जा रही सवारी गाड़ी शाम 4 बजकर 5 मिनट में खुली थी तथा 5 बजकर 41 मिनट में हसनपुर पहुंची। जहां ट्रेन चालक को सूचना मिली कि राजधानी एक्सप्रेस की क्रांसिंग है।

इसके बाद मुख्य चालक संतोष कुमार को कर्मवीर ने कहा कि जब तक ट्रेन खुलने का समय होगा तब तक में हम हसनपुर बाजार से घूम-टहल कर आते हैं ।इसी दौरान वह हसनपुर बाजार के दुर्गा मंदिर स्थित एक चाय के दुकान में शराब पीकर हंगामा करने लगा । इधर सहायक चालक को हंगामा करने के कारण सवारी गाड़ी हसनपुर स्टेशन पर करीब एक घंटा तक रुकी रही। बाजार में हंगामा कर रहे चालक को जीआरपी पकड़ कर स्टेशन पर लाये। लेकिन वह ट्रेन चलाने की स्थिति में नहीं था। बाद में उसी ट्रेन में सफर कर रहे सहरसा के लोका पायलट ऋषिराज कुमार से स्टेशन मास्टर मनोज कुमार चौधरी ने आग्रह कर सहरसा जाने का मेमो दिया।

इसके बाद ट्रेन शाम के 6 बजकर 47 मिनट पर सहरसा के लिए रवाना हुई। घटना की जानकारी के बाद रेलवे मुख्यालय में अधिकारियों के बीच हड़कंप मच गया। डीआरएम आलोक अग्रवाल के नेतृत्व में मामले को लेकर बैठक हो रही है। हालांकि अधिकारिक तौर पर अभी कोई कुछ बोलने से परहेज कर रहा है। वहीं डीआरएम आलोक अग्रवाल ने मामले को लेकर बताया कि मामला काफी गंभीर है। परिचालन विभाग से जानकारी मांगी गई है। रिपोर्ट आने के बाद दोषी चालक पर कार्रवाई की जाएगी।