काॅशन ऑर्डर होगा अब ऑनलाइन

68

काॅशन ऑर्डर होगा अब ऑनलाइन

प्रतिनिधि समस्तीपुर : रेल मंडल में भी अब कॉशन ऑर्डर जल्द ही ऑनलाइन होगा कागजी प्रक्रिया से स्टेशनों को छुटकारा मिलेगा. साथ ही स्पीड लिमिट पर भी ज्ञान निगरानी रखी जा सकेगी. विगत दिनों यात्री सुरक्षा काे देखते हुए
रेलवे ट्रैक पर चल रही ट्रेनाें के लिए स्पीड लिमिट यानी काॅशन ऑर्डर काे ऑनलाइन करने का निर्णय लिया गया है.एक रेल डिवीजन से दूसरे रेल डिवीजन काे ऑनलाइन जुड़ेंगे. यानी रेलवे ट्रैक पर स्पीड तय कर दी जाएगी, ताे उसे ऑनलाइन रेल अधिकारी देख सकेंगे. फिलहाल कॉशन आर्डर अभी स्टेशन की ओर से जारी की जाती रही है.

ऑनलाइन करने से हाेगा फायदा, ट्रेन के पायलट पर रहेगी नजर
कई जगहाें पर रेलवे ट्रैक की स्थिति काे देखते हुए ट्रैक पर दाैड़ रही ट्रेनाें की स्पीड कम कर दी जाती है. इसे हर रेल डिवीजन के अधिकारी अपने ही डिवीजन के अंदर देख पाते थे. लेकिन अब इसे ऑनलाइन कर एक रेल डिवीजन से दूसरे रेल डिवीजन जुड़ेगा. पता रहेगा कि ट्रैक पर यात्री काे लेकर दाैड़ रही ट्रेन सुरक्षित तरीके से तय स्पीड में जा रही है या नहीं. व्यवस्था ऑनलाइन हाेने से ट्रेन के पायलट पर नजर रखी जा सकेगी और उस पर कंट्राेल करने में आसानी हाेगी.
इसलिए काॅशन ऑर्डर
रेलवे ट्रैक की मरम्मत के दाैरान रेलवे दाे स्टेशनाें के बीच ट्रेनाें की स्पीड लिमिट तय करता है.यानी 100 की स्पीड से चलनेवाली ट्रेन उन दाे स्टेशनाें के बीच रेलवे द्वारा तय स्पीड पर ही चलेगी. इसे ही काॅशन ऑर्डर कहते हैं, क्याेंकि यात्री सुरक्षा काे ध्यान में रखते हुए ट्रेन के पायलट काे पत्र यानी काॅशन ऑर्डर दिया जाता है.