लहरियासराय से 5.45 घंटे में सहरसा का सफर

67

 

 

लहरियासराय से 5.45 घंटे में सहरसा का सफर

 

 

प्रतिनिधि, समस्तीपुर : सात मई का दिन कोसी और मिथिलांचल के लोगों के लिए ऐतिहासिक दिन होगा. झंझारपुर से सहरसा तक सात मई को उद्घाटन स्पेशल ट्रेन चलेगी. पूर्व मध्य रेलवे के सीपीआरओ राजेश कुमार ने कहा कि रेल मंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए नवनिर्मित रेलखंड का उद्घाटन करते झंझारपुर-सहरसा उदघाटन स्पेशल ट्रेन को रवाना करेंगे.

उदघाटन समारोह में पूर्व मध्य रेल के महाप्रबंधक अनुपम शर्मा, समस्तीपुर मंडल के डीआरएम आलोक अग्रवाल सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद रहेंगे. नवनिर्मित रेलखंड के चालू होने पर कम समय और खर्च पर सहरसा से दरभंगा का सफर तय होगा. दोनों शहरों के बीच ट्रेन के परिचालन से लाखों की आबादी को फायदा होगा.

 

1584 करोड़ की लागत

विदित हो कि यह परियोजना 206 किलोमीटर लंबे सकरी-लौकहा बाजार-निर्मली एवं सहरसा-फॉरबिसगंज आमान परिवर्तन परियोजना का भाग है. इस परियोजना की कुल स्वीकृत लागत 1584 करोड़ रूपए है. इसके साथ ही 491 करोड़ रूपए की लागत से कोसी मेगाब्रिज का निर्माण किया गया है जिसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा 18 सितंबर, 2020 को देश को समर्पित किया गया था . झंझारपुर से आसनपुर कुपहा तक 38 किलोमीटर का कार्य 456 करोड़ रूपए की लागत से पूरी कर ली गई है. इस रेलखंड के चालू हो जाने से 88 वर्षों के बाद दो भागों में विभाजित मिथिलांचल के बीच रेल संपर्क पुनः स्थापित हो जाएगा. इससे इस क्षेत्र के लोग रेलवे के विशाल नेटवर्क से जुड़ जाएंगे जो लोगों के लिए आर्थिक समृद्धि का द्वार खोलेगा .

::::::::::::

लहरिया सराय से 5.45 घंटे में सहरसा

नवनिर्मित रेलखंड पर फिलहाल तीन ट्रेनों का परिचालन किया जाएगा. लहरिया सराय से सहरसा के बीच 5.45 घंटे में यह ट्रेन सफर तय करेगी.फिलहाल जिन ट्रेनों को चलाने की घोषणा की गई है उसमें 055 45 सवारी गाड़ी लहरिया सराय से सुबह में 5:05 में रवाना होगी और सहरसा 10:50 में पहुंचेगी. दूसरी सवारी गाड़ी 055 43 लहरिया सराय से दिन के 12:05 में रवाना होगी और शाम में 6:05 में सहरसा पहुंचेगी.तीसरी सवारी गाड़ी 0 5547 लहरिया सराय से रात में 8:05 में रवाना होगी और सहरसा रात में 1:30 बजे पहुंचेगी.