रामानुज सिंह “गौतम” ने सम्राट अशोक की जयन्ति एवं चैती शुक्ल पक्ष की अष्टमी पर संदेश प्रस्तुति ।

124

पटना(बिहार) :आज चैत्र मास का शुक्ल पक्ष (दुसरा पख) अष्टमी का दिन है । आज ही के दिन 304 ( श्रीलंका  के साहित्य के अनुसार) और अन्य जगहों के इतिहासकारों के अनुसार 324 साल ईसा पूर्व सम्राट अशोक महान का जन्म पटना ( तत्कालीन पाटलिपुत्र) के धरती पर हुआ था । इनके द्वारा लिखे गये गुहा लेख , स्तम्भ लेख और शिलालेख को सर जेम्स प्रिंसेप ने १८३७ इसवीं में पढ़ा और देश की जनता को पढ़ाया ।

यह धम्मी लिपि और पाली भाषा में पत्थर  पर लोहा की कलम से लिखा गया लेख को देश के ग़द्दारों ने नहीं पढ़ सका और नहीं पढ़ने की क़ाबिलियत ही रहा । यहाँ तक कि मुस्लिम आक्रमण कारी शासकों को भी भ्रमित किया । नतीजा जनता गुमराह होते रहा आजतक । अब बिहार के लोग जाग चुके हैं और देश के विरासत को बचाने हेतु सहर्ष तैयार हैं ।

खोई हुई प्रतिष्ठा हासिल करने को बेताब हैं । आओ मिलकर देश में समतावादी सरकार बनाये और समरसतावादी को जड़ मूल से उखाड़ फेंको । शोषित समाज दल सक्रिय है । इसका मुखपत्र पढ़ने का संकल्प करे और किसी धोखेबाज़ से भ्रमित होने से बचे ।